in

हरियाणा में 100 से अधिक लोगों के एकत्रित होने वाले क्षेत्रों में मास्क अनिवार्य होगा: अनिल विज चंडीगढ़ समाचार

चंडीगढ़: हरियाणा के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री अनिल विज उन्होंने कहा कि राज्य में मास्क पहनना अनिवार्य किया जाएगा, विशेष रूप से भीड़-भाड़ वाले क्षेत्रों में जहां भीड़भाड़ वाले क्षेत्रों में 100 व्यक्तियों से अधिक होने की उम्मीद है ताकि मास्क को फैलने से रोका जा सके। कोविड संक्रमण.

हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कहा है कि जहां भी 100 से ज्यादा लोगों की भीड़ है, वहां लोगों को मास्क पहनने की जरूरत है।

05:26

हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कहा है कि जहां भी 100 से ज्यादा लोगों की भीड़ है, वहां लोगों को मास्क पहनने की जरूरत है।

इसके अलावा राज्य में सभी स्वास्थ्य कर्मियों के लिए मास्क पहनना अनिवार्य कर दिया गया है।
विज वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। स्वास्थ्य विभाग कोविड संक्रमण को लेकर की जाने वाली व्यवस्थाओं और तैयारियों के संबंध में चंडीगढ़ में। उन्होंने कहा कि खांसी और जुकाम के साथ अस्पताल पहुंचने वाले रोगियों के लिए कोविड परीक्षण अनिवार्य होगा। इसके अलावा उन्होंने कहा कि कोविड पॉजिटिव पाए गए मरीजों की जीनोम सिक्वेंसिंग करने के निर्देश दिए गए हैं।
पिछले सप्ताह के दौरान राज्य भर में 25,404 कोविड परीक्षण किए गए।
मंत्री ने बताया कि वर्तमान में हरियाणा में 724 सक्रिय मरीज हैं लेकिन उनमें से कोई भी अस्पताल में नहीं है। उन्होंने बताया कि पिछले सप्ताह के दौरान राज्य भर में 25,404 कोविड परीक्षण किए गए। उन्होंने कहा कि कोविड की पहली वैक्सीनेशन डोज 103 प्रतिशत, दूसरी डोज 86 प्रतिशत लगाई गई, वहीं प्रदेश के सभी सिविल सर्जन अधिकारियों को निर्देशित किया गया है कि वे लोगों को एहतियातन डोज लगाने के लिए प्रेरित करें।
लोगों को सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए कोविड प्रोटोकॉल का पालन करने की सलाह दी जाती है।
स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि कोविड प्रोटोकॉल का पालन करने से कोविड फैलने के प्रभाव को रोकने में मदद मिलेगी। उन्होंने सभी को सुरक्षा के लिए सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क पहनने का पालन करने की सलाह दी। बैठक के दौरान स्वास्थ्य मंत्री को अवगत कराया गया कि 10-11 अप्रैल को राज्य में कई स्थानों पर मॉक ड्रिल का आयोजन किया जाएगा। प्रदेश में टेस्टिंग, ट्रेसिंग, ट्रीटमेंट, टीम वर्क, ट्रैकिंग और मॉनिटरिंग की जा रही है। इसके अलावा प्रदेश के सभी सिविल सर्जनों को टेस्टिंग दोगुनी करने के निर्देश भी जारी किए गए हैं। मंत्री को बताया गया है कि एसएआरआई, आईएलआई और फ्लू कॉर्नर की शत-प्रतिशत जांच की जा रही है।
स्वास्थ्य मंत्री को बताया गया कि अब तक परीक्षण में एक्सबीबी.1 और एक्सबीबी.1.5 वेरिएंट पाए गए हैं। इस पर मंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि जांच उपकरण, और दवाओं की पर्याप्त व्यवस्था करने के साथ-साथ कोविड संक्रमण से बचाव के लिए टीकाकरण पर जोर दिया जाए। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि उच्च जोखिम वाले लोगों का टीकाकरण किया जाए। इसके अलावा होम आइसोलेशन में मरीजों की मदद के लिए एक कंट्रोल रूम भी स्थापित किया जाए ताकि ऐसे मरीजों से संपर्क कर मदद की जा सके।

What do you think?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

GIPHY App Key not set. Please check settings

भ्रष्टाचार के खिलाफ भूख हड़ताल पर बैठे ब्रह्मेश्वर नाथ मिश्र

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने न्यायपालिका के बारे में ‘अनुचित टिप्पणी’ के लिए खेद व्यक्त किया है। चंडीगढ़ समाचार